नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!
नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

25 April, 2022

मेहनत रंग लाई !! (लघु कथा )

मेहनत रंग लाई!!(लघुकथा )

सुनील को उसके काम की वजह से बहुत इज़्ज़त मिलती है |  प्यारी सी मुनिया को पा सुनील मिस्त्री बहुत खुश था |अब दूसरा बच्चा नहीं चाहिए | सुरेखा भी सिलाई करके कुछ पैसे कमा लेती थी सर्व गुण संपन्न ,आठ साल की मुनिया कॉन्वेंट में पढ़ती है | पढ़ने में अव्वल |

 कल मुनिया ने पापा से पूछ ही लिया ,''पापा आप ने क्या पढ़ाई की है ?'' सुनील ने बात टाल दी | उसे लगा अगर  मुनिया को डॉक्टर बनाना है तो उसे पढ़ाई करनी ही पड़ेगी |  उसने मैट्रिक का फॉर्म भर दिया | मेहनत रंग लाती  है | आज मुनिया डॉक्टर है ,सुनील का काम बढ़िया चल रहा है और घर के  बाहर  बोर्ड लगा है सुनील मिस्त्री ,बी ए ,एल.एल बी !!


अनुपमा त्रिपाठी 

  "सुकृति "

9 comments:

  1. वाह , क्या बात ।
    बहुत बढ़िया ।

    ReplyDelete
  2. सादर नमस्कार ,

    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (26-4-22) को "संस्कार तुम्हारे"(चर्चा अंक 4411) पर भी होगी।
    आप भी सादर आमंत्रित है,आपकी उपस्थिति मंच की शोभा बढ़ायेगी।
    ------------
    कामिनी सिन्हा

    ReplyDelete
    Replies
    1. सादर धन्यवाद कामिनी जी!!

      Delete
  3. सुन्दर प्रस्तुति।

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छी कहानी।सादर प्रणाम

    ReplyDelete
  5. मेहनत के महत्व को बताती सुंदर कहानी, बच्चों से बड़े कितना कुछ सीख सकते हैं

    ReplyDelete
  6. सच इंसान की पहचान उसके काम से होती है
    बहुत सुन्‍दर

    ReplyDelete
  7. वाह!सच मेहनत रंग लाती है।
    बहुत बढ़िया।
    सादर

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर लघुकथा।

    ReplyDelete

नमस्कार ...!!पढ़कर अपने विचार ज़रूर दें .....!!