नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!
नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

12 November, 2012

घर आ गए लक्ष्मण राम ....पुरी में आनंद भयो .......


यह भजन मेरी दादी का प्रिय भजन है ......हम सब इसे ढोलक पर बड़े ही शौक से गाया करते थे !शास्त्रीय संगीत के स्पर्श से इसकी काया ही बदल गयी ....जब भी इसे भाव विभोर हो गाती हूँ .....आँखों मे दादी के चेहरे का हर्ष ....साफ दिखता है ....आज भी ......

और मेरा हर्ष बस इतना ही कि उन भजनों को दादी के बाद भी मैंने मिटने नहीं दिया .......

दीपोत्सव की आप सभी को सपरिवार हार्दिक मंगलकामनाएं ..........



मन दीप जले ....
घोर तम हटे .........
एक मुस्कान फिर खिले .........
यही प्रभु से प्रार्थना है ..............


29 comments:

  1. मन दीप जले ....
    घोर तम हटे .........
    एक मुस्कान फिर खिले .........
    मधुर स्‍वर में भाव विभोर करता अनुपम गीत
    !! प्रकाश पर्व की आपको अनंत शुभकामनाएं !!

    ReplyDelete
  2. दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये आपको और आपके समस्त पारिवारिक जनो को !

    ReplyDelete
  3. आपको दिवाली की शुभकामनाएं । आपकी इस खूबसूरत प्रविष्टि की चर्चा कल मंगल वार 13/11/12 को चर्चा मंच पर राजेश कुमारी द्वारा की जायेगी आप का हार्दिक स्वागत है

    ReplyDelete
  4. दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें...सभी परिवार जनों को..

    ReplyDelete
  5. बहुत सुंदर .... दीपावली की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  6. भजन सुनकर बड़ा अच्छा लगा. दीपावली की शुभकामनायें.

    निहार

    ReplyDelete
  7. खूबसूरत प्रस्तुति
    दीपावली की शुभकामनायें.

    ReplyDelete
  8. सुन्दर प्रस्तुति!
    --
    दीवाली का पर्व है, सबको बाँटों प्यार।
    आतिशबाजी का नहीं, ये पावन त्यौहार।।
    लक्ष्मी और गणेश के, साथ शारदा होय।
    उनका दुनिया में कभी, बाल न बाँका होय।
    --
    आपको दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    ReplyDelete
  9. आनन्द आ गया!! बहुत ही सुन्दर भजन..
    दीपावली की शुभकामनाएँ!!

    ReplyDelete
  10. भुत ही खूबसूरत प्रस्तुति... दीपावली की अनंत शुभकामनाएँ!!

    ReplyDelete
  11. मन हरने वाला भजन!

    शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  12. मंगलमय हो दीपों का त्यौहार... आपको व आपके समस्त परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें......

    ReplyDelete
  13. सुन्दर भजन.....
    आपको सहपरिवार दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ....
    :-)

    ReplyDelete
  14. घर आ गए लक्ष्मण राम पूरी में आनंद भयो ....संगीत सरणी दिवाली को शुभ कर गई .

    ReplyDelete


  15. अफ़सोस !

    दादी का भजन पोती के स्वर में सुन नहीं पा रहा हूं …

    मेल से भेज सकती हैं क्या ?
    साभार …

    ReplyDelete
    Replies
    1. राजेन्द्र जी बहुत आभार .....यू ट्यूब पर आप जब चाहे सुन सकते हैं ....!! पहले बफर कर लीजिएगा और ईयर फोन से सुनिएगा ....!!

      Delete



  16. ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    ♥~*~दीपावली की मंगलकामनाएं !~*~♥
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ
    सरस्वती आशीष दें , गणपति दें वरदान
    लक्ष्मी बरसाएं कृपा, मिले स्नेह सम्मान

    **♥**♥**♥**● राजेन्द्र स्वर्णकार● **♥**♥**♥**
    ஜ●▬▬▬▬▬ஜ۩۞۩ஜ▬▬▬▬▬●ஜ


    ReplyDelete
  17. बहुत सुन्दर भजन .. दीपावली की सादर शुभकामनाएं!!

    ReplyDelete
  18. आप सबको दीवाली की शुभकामनायें..

    ReplyDelete
  19. बढिया प्रस्तुति
    मैने पहले भी आपको सुना है, बहुत सुंदर


    दीपावली की ढेर सारी शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  20. बहुत सुंदर........दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ....

    ReplyDelete
  21. विलम्ब से ही सही , स:परिवार ज्योति पर्व दीपावली की ढेरों बधाइयाँ एवं शुभकामनाएं स्वीकार कीजियेगा,,

    ReplyDelete
  22. आप सभी को दीपोत्सव की पुनः ढेर सारी शुभकामनायें ....भजन पसंद करने के लिए हृदय से आभार ...!!

    ReplyDelete
  23. सुंदर व पवित्र प्रस्तुति ।

    सादर- देवेंद्र
    मेरी नयी पोस्ट अन्नदेवं,सृष्टि-देवं,पूजयेत संरक्षयेत पर आपका हार्दिक स्वागत है।

    ReplyDelete

नमस्कार ...!!पढ़कर अपने विचार ज़रूर दें .....!!