नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!
नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

12 June, 2022

कविता ही तो है !!

शब्द चुनकर 

मन की विचारधारा में 

बहने का प्रयास ,

क्षण गुणकर ,

रंग बुनकर ,

जीवन सा ,

खिल उठने का प्रयास ,

व्याप्त व्यथा ,

नदी की कथा ,

कहते और कहते रहने का प्रयास ,

तुम हम में बसी 

आत्मा को जीवित रखने का प्रयास ,

और नहीं तो क्या ,

कविता ही तो है !!


अनुपमा त्रिपाठी 

"सुकृति "

20 comments:

  1. आपकी लिखी रचना सोमवार 13 जून 2022 को
    पांच लिंकों का आनंद पर... साझा की गई है
    आप भी सादर आमंत्रित हैं।
    सादर
    धन्यवाद।

    संगीता स्वरूप

    ReplyDelete
    Replies
    1. आदरणीय संगीता दी सादर नमस्कार ,
      बहुत बहुत धन्यवाद मेरी रचना को शामिल करने हेतु !!

      Delete
  2. बहुत सही
    तभी तो वह कविता है

    ReplyDelete
  3. जी नमस्ते ,
    आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल सोमवार(१३-०६-२०२२ ) को
    'एक लेखक की व्यथा ' (चर्चा अंक-४४६०)
    पर भी होगी।
    आप भी सादर आमंत्रित है।
    सादर

    ReplyDelete
    Replies
    1. आदरणीय अनीता सैनी जी नमस्कार,
      आपका बहुत बहुत धन्यवाद मेरी रचना को शामिल करने हेतू!!

      Delete
  4. जीवन के रंगों को गूढ़ भावयुक्त शब्दों में बाँधने का प्रयास कविता ही है।
    सुंदर प्रयास।
    सादर।

    ReplyDelete
  5. बहुत बहुत सुंदर अनुपमा जी।
    कवि के लिए तो कविता संसार की हर भावना का स्रोत है।
    अप्रतिम।

    ReplyDelete
  6. वाह ! कविता की अनूठी व्याख्या !

    ReplyDelete
  7. वाह…बहुत खूब

    ReplyDelete
  8. कहते और कहते रहने का प्रयास... कविता !!
    बहुत ही सुन्दर।

    ReplyDelete
  9. अद्भुत कविता अनुपमा जी

    ReplyDelete
  10. कविता को परिभाषित करता सुन्दर सृजन ।

    ReplyDelete
  11. बहुत सुन्दर

    ReplyDelete
  12. वाह! बहुत सुंदर भाव!!!

    ReplyDelete
  13. वह! बहुत सुंदर भाव!!

    ReplyDelete
  14. ठीक कहा आपने अनुपमा जी। कवि-हृदय का प्रत्येक भाव कविता ही होता है चाहे अभिव्यक्ति का रूप कोई भी हो।

    ReplyDelete
  15. वाह! गागर में सागर सी आपकी लघु कविता, जीवन के सुंदरतम उद्देश्य की तरफ़ इंगित करती चलती है

    ReplyDelete
  16. बेशक ! कविता ही है ।

    ReplyDelete

नमस्कार ...!!पढ़कर अपने विचार ज़रूर दें .....!!