नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!
नमस्कार ....!!आपका स्वागत है ....!!

07 March, 2012

तुमरी राधा रह जाऊं .. .....!!!!



सील संतोस से
चन्दन  घोर घोर ...
केसर रंग पोर पोर ......
हियरा में उठत हिलोर ....
प्रेम प्रीत पिचकार बनाई..
होरी आई सब रंग ,रंग लाई  ...
श्याम तुम रंगे सब रंग ...
मैं कैसे खेलूं होरी श्याम के संग ...
रंगूँ तुम्हें अब किस विध  अपने रंग ...?
होरी कैसे खेलूं श्याम के संग ...?
आज मैं ही रंग जाऊं श्याम के प्रेम रंग ...!!

तुम से  लिप्त ...
तुम में  लिप्त ...
ऐसी खो जाऊं ...
तुम रक्षक प्रभु मेरे ...
बांस की बाँसुरिया नेक  बजाऊं ......
तुमरी तान मगन जब गाऊं ...
सुध-बुध  बिसराऊं  ...
प्रेम राग, भर अनुराग ,फाग सुनाऊं ......
आज मान दो इतना ...
युगों-युगों तक ...
मैं ही बस ..
तुमरी  राधा रह जाऊं .. .....!!!!

34 comments:

  1. हर नारी मन में ये आस पलती है कि कान्हा संग होली खेलूं...
    और रंग जाऊं उसके रंग में....

    डूब गयी आपके शब्दों में...
    होली शुभ हो!!!!

    ReplyDelete
  2. आज मान दो इतना ...
    युगों-युगों तक ...
    मैं ही बस ..
    तुमरी राधा रह जाऊं .. .....!!!!
    वाह..!! कितना प्यार बरस रहा है...!!
    एक छोटा सा शब्द "तुमरी" कैसे वाक्य में एक अलग सा भाव ला रहा है..
    बहुत प्यारी सी रचना...
    कमेन्ट में कह नहीं पा रहा हूम की कैसे अपने शब्दों को रखूं... होली की शुभकामनायें....

    ReplyDelete
  3. अनुपम भाव संयोजन के साथ उत्‍कृष्‍ट अभिव्‍यक्ति ...

    ReplyDelete
  4. सुन्दर!
    शुभकामनाएं!

    ReplyDelete
  5. आपको होली की हार्दिक शुभकामनाएँ !

    ReplyDelete
  6. सुंदर रंग-बिरंगी फाल्गुनी प्रस्तुति.... . स:परिवार होली की हार्दिक शुभकामनाएं.......

    ReplyDelete
  7. आज मान दो इतना ...
    युगों-युगों तक ...
    मैं ही बस ..
    तुमरी राधा रह जाऊं .. ..आध्यात्मिक समर्पित रंग

    एक स्नेहिल रंग हमारी तरफ से ...

    ReplyDelete
  8. श्याम और होली का तो जनम जन्मांतर का नाता है ... उसका आभास कर के ही होली की शुरुआत हो जाती है ...
    आपको और आपके समस्त परिवार को होली की मंगल कामनाएं ...

    ReplyDelete
  9. राधा बन मनभावन की,
    सुध होली के आवन की..

    ReplyDelete
  10. .

    इतनी सुंदर रचना पढ़ कर
    हृदय आनंदानुभूति से भर गया …

    आभार आपका …

    ReplyDelete
  11. **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    *****************************************************************
    ♥ होली ऐसी खेलिए, प्रेम पाए विस्तार ! ♥
    ♥ मरुथल मन में बह उठे… मृदु शीतल जल-धार !! ♥



    आपको सपरिवार
    होली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !
    - राजेन्द्र स्वर्णकार
    *****************************************************************
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**

    ReplyDelete
  12. बहुत बेहतरीन प्रस्तुति,सुंदर अभिव्यक्ति....वाह!!!!क्या बात है

    अनुपमा जी,...होली की बहुत२ बधाई शुभकामनाए...

    RECENT POST...काव्यान्जलि ...रंग रंगीली होली आई,

    ReplyDelete
  13. भक्तिरस में सराबोर होली के रंग कविता में बिखरे है. होली की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  14. बहुत अच्छी प्रस्तुति| होली की आपको हार्दिक शुभकामनाएँ|

    ReplyDelete
  15. बहुत ही खुबसूरत रंगों से भरा हो आपका होली का त्यौहार.....

    ReplyDelete
  16. पढ़कर एक आध्यात्मिक अनुभूति हुई!
    हैप्पी होली।

    ReplyDelete
  17. आपको सपरिवार होली की मंगलकामनाएँ!

    ReplyDelete
  18. सुन्दर गीत .होली मुबारक.

    ReplyDelete
  19. बहुत ही सुन्दर....होली की मंगलकामनाएँ..

    ReplyDelete
  20. प्रेम रंग में डूबी रचना ... सुंदर भाव संयोजन ...होली की शुभकामनायें

    ReplyDelete
  21. बहुत शुभ भावना और कामना...होली की शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  22. बहुत बढिया
    होली की ढेर सारी शुभकामनाएं

    ReplyDelete
  23. सुन्दर आत्मिक अध्यात्मिक रस सिक्त पंक्तियाँ . आनंद आया पढ़कर . रंग पर्व की शुभकामनायें ..

    ReplyDelete
  24. सुंदर कोमल भावो कि अभिव्यक्ती
    बहूत-बहूत सुंदर रचना...
    होली का पर्व आपके जीवन में अपार खुशिया लाये

    ReplyDelete
  25. आपके भक्तिमय पावन हृदय से
    स्पंदित इस भावपूर्ण अनुपम प्रस्तुति
    को हृदय से नमन.
    भक्ति रस में डुबो दिया है आपने.

    होली की हार्दिक शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  26. कितनी पावन,मन-भावन कामना है !
    होली की रंगभरी शुभकामनाएँ.

    ReplyDelete
  27. श्याम के अनुराग के रंग में रंगी यह भावपूर्ण अर्चना विभोर कर गयी अनुपमा जी ! होली की हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  28. आपकी पोस्ट चर्चा मंच पर प्रस्तुत की गई है
    कृपया पधारें
    http://charchamanch.blogspot.com
    चर्चा मंच-812:चर्चाकार-दिलबाग विर्क>

    ReplyDelete
    Replies
    1. आपका आभार ...इस रचना को चर्चा मंच पर लेने के लिए ....!!

      Delete
  29. रंगों भरी होली की हार्दिक शुभकामनाएं..

    ReplyDelete
  30. बहुत सुन्दर!


    होली मुबारक!!

    ReplyDelete
  31. होली की शुभकामनाओं के साथ सुन्दर रचना के लिए बधाई..

    ReplyDelete
  32. बहुत सुन्दर हृदयस्पर्शी भावाभिव्यक्ति....
    होली की हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete

नमस्कार ...!!पढ़कर अपने विचार ज़रूर दें .....!!